• Tue. Feb 27th, 2024

अरविंद मिश्रा, बलौदाबाजार. जिले में शिक्षा के साथ ही साथ छात्र-छात्राओं को उनके अंदर छुपी विभिन्न प्रकार की कलाकारियों को तराशने का काम किया जा रहा है. विज्ञान के साथ ही साथ नैतिक शिक्षा दी जा रही है. इसके अलावा घर के वेस्ट पदार्थों को सहेजकर कैसे आकर्षक बनाया जा सकता है और घर को सजाकर परिवार को आर्थिक लाभ पहुंचाया जा सकता है, इसकी शिक्षा दी जा रही है.

शनिवार को गुरूकुल इंग्लिश मीडियम स्कूल में प्रदर्शनी का आयोजन किया गया. जिसमें बच्चों द्वारा वेस्ट पदार्थों से बनाये गये सजावटी सामानों को प्रदर्शित किया गया. इसके साथ ही विज्ञान के चमत्कार और आने वाले भविष्य में बढ़ते पर्यावरण प्रदूषण के साथ ही सुरक्षित और सुव्यवस्थित यातायात, बचत बैंक, परिवार के लिए बीमा का कितना बड़ा योगदान हो सकता है, जिसको प्रदर्शित किया गया.

इस प्रदर्शनी में बड़ी संख्या में छात्र-छात्राओं के साथ पालक भी देखने पहुंचे और बच्चों की प्रतिभा को सराहा. विघालय की प्राचार्य वंदना तिवारी ने बताया कि विघालय में एक दिन शनिवार को हम लोग विशेष क्लास चलाकर बच्चों को वेस्ट पदार्थों से कैसे सजावटी सामान बनाया जा सकता है, इसको सीखाते हैं. इससे दो फायदे हैं. बच्चों के अंदर छुपी प्रतिभा तो निखरती ही है, वेस्ट पदार्थों का उपयोग होता है. जिससे बढ़ते पर्यावरण प्रदूषण को रोकने में मदद मिलती है. उन्ही सब चीजों को जिनको छात्र-छात्राओं ने बनाया है प्रदर्शित किया गया है. इसके साथ ही विज्ञान के चमत्कार से संबंधित मॉडलों का प्रदर्शन किया गया है. जिसे पालकों ने भी काफी सराह है.

  • छत्तीसगढ़ की खबरें पढ़ने यहां क्लिक करें
  • अच्छी खबर डांट इन की खबरें English में पढ़ने यहां क्लिक करें

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You missed

NEWS VIRAL