• Thu. Sep 21st, 2023

उज्जैन। मध्य प्रदेश के उज्जैन में स्थित विश्व प्रसिद्ध श्री महाकालेश्वर मंदिर में रविवार तड़के 3 बजे मंदिर के कपाट खोले गए। भगवान महाकाल को जल से स्नान कराया गया। इसके बाद दूध, दही, घी, शहद, शक्कर और फलों के रस से बने पंचामृत से अभिषेक पूजन किया।

बाबा महाकाल का भस्म आरती के दौरान भांग, चंदन, सिंदूर और आभूषणों से श्रृंगार किया गया। मस्तक पर चंदन का तिलक और सिर पर शेषनाग का रजत मुकुट धारण कर रजत की मुंडमाला और रजत जड़ी रुद्राक्ष की माला के साथ सुगंधित पुष्प से बनी फूलों की माला अर्पित की।

तिलक पर फिर ऐतराज: स्कूल में तिलक लगाकर आने पर छात्र को नहीं दिया प्रवेश, हिंदूवादी संगठनों ने किया हंगामा

साथ ही मोगरे के सुगंधित पुष्प अर्पित कर राजा स्वरूप में श्रृंगार किया गया। भगवान महाकाल को फल और मिष्ठान का भोग लगाया। श्रावण माह के रविवार को बड़ी संख्या में पहुंचे श्रद्धालुओं ने भगवान महाकाल का आशीर्वाद लिया।

Read more- Health Ministry Deploys an Expert Team to Kerala to Take Stock of Zika Virus

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You missed