• Sat. Jun 15th, 2024

INDIA Meeting : ‘इंडिया’ की दो दिवसीय बैठक मुंबई में, विपक्षी गठबंधन में होगी नए पार्टी की एंट्री ? जानिए कौन सी Party के शामिल होने का है सस्पेंस

ByCreator

Aug 30, 2023    150829 views     Online Now 421

INDIA Meeting : लोकसभा चुनाव में सत्ताधारी एनडीए की सरकार को पछाड़ने के लिए विपक्षी पार्टी

एक जूट होकर रणनीति बनाने में लगी हुई है. विपक्षी गठबंधन INDIA की मुंबई के होटल हयात में दो दिवसीय बैठक कल यानी 31 अगस्त और 1 सितंबर को (INDIA Meeting) होने वाली है. इस बैठक की मेजबानी शिवसेना (यूबीटी) करेगा. यह विपक्षी गठबंधन INDIA की तीसरी बैठक होने वाली है.

INDIA Meeting

बुधवार को बैठक (INDIA Meeting) के एक दिन पहले गठबंधन के तीन अलग-अलग पार्टियों से प्रधानमंत्री पद के लिए तीन दावेदारों का नाम सामने आया. जिसमें दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल, समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष अखिलेश यादव और शिवसेना नेता उद्धव ठाकरे को पीएम पद का दावेदार बनाए जाने की मांग की गई. इस बीच इंडिया गठबंधन में नए पार्टी के जुड़ने का भी सस्पेंस बना हुआ है.

INDIA गठबंधन में नए पार्टी की एंट्री ? (INDIA Meeting)

विपक्षी गठबंधन INDIA की तीसरी बैठक (INDIA Meeting) से पहले पंजाब की पार्टी शिरोमणि अकाली दल की एंट्री को लेकर भी सस्पेंस बना हुआ है. सूत्रों के मुताबिक विपक्षी दलों की ओर से अकाली दल को भी INDIA गठबंधन में शामिल होने के लिए न्योता दिया गया है. हालांकि इस खबर पर अकाली दल की ओर से किसी तरह का कोई भी बयान नहीं आया है. वहीं पंजाब कांग्रेस के अध्यक्ष अमरिंदर सिंह राजा वडिंग ने इसे अफवाह बताया है. पंजाब कांग्रेस अध्यक्ष ने दो टूक कहा है कि कांग्रेस कभी अकाली दल से गठबंधन नहीं करेगी. अकाली वाले खुद ये अफवाह फैला रहे हैं कि बीजेपी के सामने उनकी वैल्यू बढ़ जाए.

See also  CG BREAKING : कांग्रेस नेता के निधन से शोक की लहर, 2018 में लड़ चुके हैं विधानसभा चुनाव

INDIA गठबंधन में शामिल होने को लेकर मायावती ने क्या कहा ?

विपक्षी एकजुटता के नेता नीतीश कुमार ने कहा था कि कुछ और पार्टियां INDIA गठबंधन में शामिल होंगी. नीतीश के इस बयान के बाद वो पार्टियां कौन सी हो सकती हैं? इसे लेकर बहस छिड़ गई. मायावती की पार्टी बहुजन समाज पार्टी (बसपा) का नाम भी लिया जा रहा था. लेकिन मायावती ने खुद ट्वीट करके ये साफ कहा है कि हम न एनडीए में शामिल होंगे और ना ही INDIA में. बसपा अकेले चुनाव लड़ेगी.

मायावती ने ये भी कहा कि दोनों ही गठबंधन में अधिकतर गरीब विरोधी जातिवादी, साम्प्रदायिक, पूंजीवादी पार्टियां हैं जिनकी नीतियों के खिलाफ बसपा लगातार संघर्ष करती रही है. इनके साथ गठबंधन का सवाल ही नहीं. मायावती के इस बयान से साफ जाहिर हो गया है कि बसपा विपक्षी पार्टी के गठबंधन में शामिल नहीं होगी.

Threads App पर achchhikhabar.in को फॉलो करने के लिए https://www.threads.net/@lalluramnews इस लिंक पर क्लिक करें, ताकि आपको देश दुनिया की पल-पल की खबरें मिलती रहेंगी.

छतीसगढ़ की खबरें पढ़ने के लिए करें क्लिक 
English में खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

NEWS VIRAL