• Wed. Feb 21st, 2024

हर बार लड़का नहीं, लड़की भी होती है गलतः युवक ने सुसाइड से पहले सोशल मीडिया पर Live Telecast कर पुल से नदी में लगा दी छलांग, सुसाइड नोट में गर्लफ्रेंड पर लगाए गंभीर आरोप

ByCreator

Sep 17, 2022    150813 views     Online Now 498

शब्बीर अहमद, भोपाल। “हर बार लड़का नहीं, लड़की भी होती है गलत… उसने मेरी जिंदगी बर्बाद कर दी… मैं उससे परेशान होकर अपनी जान दे रहा हूं। उसे कड़ी से कड़ी सजा होनी चाहिए…..” ये शब्द उस युवक के है, जो अब इस दुनियां में जिंदा नहीं है। युवक ने सुसाइड से पहले सोशल मीडिया पर Live Telecast कर गर्लफ्रेंड कर कई गंभीर आरोप लगाए। उसके बाद पुल से नदी में कूद गया। नदी में डूबने से युवक की मौत हो गई। उसने डैम में कूदने से पहले एक वीडियो बनाकर अपनी मां को भेजा था। घटना की जानकारी मिलने के बाद पुलिस ने SDRF की मदद से डैम में ऋषभ की तलाश की थी। शुक्रवार को युवक का शव मिला। पूरा मामला राजधानी भोपाल के कमलानगर थाना क्षेत्र का है।

रिश्ते का कत्लः भाई ने गोली मारकर बहन की कर दी हत्या, बंटवारे को लेकर भाई-बहन में चल रहा था विवाद

भोपाल में भदभदा पुल से कूदकर युवक ने आत्महत्या (Youth commits suicide by jumping off Bhadbhada bridge in Bhopal) कर ली। युवक का नाम ऋषभ वर्मा (21) है। सुसाइड करने से पहले युवक ने पुल पर ही सोशल मीडिया पर Live आकर अपनी गर्लफ्रेंड पर कई आरोप लगाए थे। युवक ने सुसाइड नोट में लिखा कि- हर बार लड़का नहीं, लड़की भी गलत होती है। वो मुझसे पैसे मांगती थी। साथ ही हर बात मनवाने के लिए दबाव डालती थी। दूसरे से दोस्ती के बाद भी वो मुझे परेशान कर रही है। उसने मेरी जिंदगी बर्बाद कर रखी है। सका भाई मुझे धमकी भी देता है। मेरी मौत की जिम्मेदार वही है। मैं उससे परेशान होकर अपनी जान दे रहा हूं। उसे कड़ी से कड़ी सजा होनी चाहिए।

कबड्डी कोर्ट बना जंग का अखाड़ा VIDEO: स्कूल में कबड्डी मैच के दौरान छात्रों के विवाद में बाहरी लोगों की एंट्री, 40 मिनट तक दोनों गुट एक-दूसरे पर बरसाते रहे लात-घूसे, शिक्षक बने रहे तमाशबीन

बुधवार को कर लिया था सुसाइड

दरअसल मृतक ऋषभ रातीबड़ के विशाल नगर में रहता था। उसने डैम में कूदने से पहले एक वीडियो बनाकर अपनी मां को भेजा था। परिजनों ने बुधवार को गुमशुदगी दर्ज कराई थी। जानकारी मिलने के बाद पुलिस ने SDRF की मदद से डैम में ऋषभ की तलाश की थी। दो दिन की मशक्कत के बाद युवक को शव शुक्रवार को भदभदा में मिला।

VIDEO: इस कांग्रेस नेता ने खुद पर केरोसीन उड़ेलकर आग लगाने के लिए जलाई माचिस, घंटेभर चला आत्मदाह करने का हाईवोल्टेज ड्रामा

मृतक युवक का सुसाइड नोट

मैं ऋषभ वर्मा अपने होशो-हवास में बयान लिख रहा हूं कि इस लड़की ने मुझे बहुत परेशान कर रखा है। इस वजह से मैं अपनी जान दे रहा हूं। मेरे पिता का नाम विजय वर्मा और मां का नाम रजनी वर्मा है। मेरे दो छोटे भाई हैं- एक का नाम यश वर्मा है। इसे भी इस लड़की ने बहुत परेशान कर रखा है। सबसे छोटे भाई का नाम तन्मय वर्मा है। भाई देख मेरी जान देने का सबसे बड़ा कारण यही लड़की है। अगर मुझे कुछ भी होता है, तो उसका नाम लेना। उसने तेरे भाई की जिंदगी बर्बाद कर दी। अरेरा कॉलोनी में उसका घर है। वो माखनलाल चतुर्वेदी यूनिवर्सिटी में पढ़ती है। उसने पिछले 4 साल और 8 महीने से मेरी जिंदगी बर्बाद कर रखी है। वो मुझे दबाकर रखती है। तुम सबने देखा है कि मैं कैसा था और कैसा हो गया हूं। उसने मुझसे शादी करने का कहा था और मेरे घर भी आई थी। उसका भाई मुझे धमकी भी देता है। मेरी मौत की जिम्मेदार वहीं है, वो मुझसे पैसे लेती रहती थी। नहीं देने पर वो मुझे मारती थी। वो मुझे डराती थी, धमकी भी देती थी, फिर उसने नए दोस्तों के लिए मुझे छोड़ दिया। मेरे साथ उसके संबंध थे। जिसकी तस्वीर मैं तुम्हे भेज रहा हूं। ये लड़की ऐसे ही सबको चलाती है। वो कहती है कि अपनी खुशी के लिए वो मुझे मार देगी। वो मुझसे सही बर्ताव नहीं कर रही है। मैंने पूछा था कि कोई गलती हुई है तो बता दो। उसका नया बॉयफ्रेंड भी बन गया है ऑफिस या कॉलेज में, फिर भी वो मुझे परेशान कर रही है। इस लड़की की वजह से मेरे 4 साल 8 महीने बेकार हो चुके हैं। मैं अब और बर्दाश्त नहीं कर सकता। उसे बाइक पर घूमना पसंद था तो उसने मुझे जबरदस्ती बाइक खरीदने को कहा। वह नशा भी करती है। वो चरस, गांजा, शराब और सिगरेट पीती है। मैं उससे परेशान होकर अपनी जान दे रहा हूं। उसे कड़ी से कड़ी सजा होनी चाहिए।

मैं तुझसे प्यार करता था,करता हूं पर। ये लड़की मुझे दबाकर रखती थी। हमेशा लड़का ही गलत नहीं होता है। हमेशा हर लड़का ही धोखा नहीं देता है। लड़कियां भी धोखा देती है। मेरे भाई मत करना ये मोहब्बत


आई मिस यू मम्मी पापा यश तन्मय चैतन्य चाचा चाची दादा दादी बुआ फूफा जी नानी मामा मामी लोग। मौसी मौसाजी पिहु दुगु बेबो उगो बड़े मामा का दोनो बच्चे मेरे। सारे बड़े, छोटे भाई मेरे जान लोग (प्रांशु चाचा, सुरेश भैया, सूरज भैया, नरेंद्र भैया, बंटी भैया, नितेश भैया, लोकेश भैया, रिंकू भैया, कपिल भैया, सौरभ नागरानी, ​​अभिनव, राहुल शर्मा, शनि, अण, चेतन, अयोध्या  चिंटू, विशाल, अर्जुन, याशु, निक्की, निपेंद्र, दर्शु, सचिन सुका, सौरभ, गौरव, दीपक साहू, विजय, राहुल, सचिन कांचा, हर्षित, और सभी स्कूल के दोस्त या सब मारे जान हा बाकी जिस को याद करते हैं बोल ना रह  गया हो। ओस को सॉरी अब जरा हा तुम सब का प्यारा....


     ऋषभ ऋषि वर्मा 





             आई मिस यू
कृपया.......
  इसे मीडिया में चलवा देना 🙏🏻
 हर लड़का धोखेबाज नहीं होता है,लड़की भी धोखा देती है। मेरे भाईयों-मेरी बहनो हमशा लड़कों को गलत मत समझ करो। 

Baby Delivery In Train: चलती ट्रेन में महिला को अचानक उठा लेबर पेन, बोगी के अंदर दिया बेटे को जन्म, RPF-GRP की महिला टीम ने साड़ी का घेरा बनाकर करवाई डिलीवरी

Read more- Health Ministry Deploys an Expert Team to Kerala to Take Stock of Zika Virus

Related Post

आईजी का इंस्पेक्शन: दरबार लगाकर आईजी ने पुलिसकर्मियों की समस्याएं सुनीं और समाधान का दिया आश्वासन, कानून व्यवस्था सुधारने के सख्त निर्देश…
बहू के Bedroom और Bathroom में ससुर ने लगाए Hidden Camera, फिर बनाने लगा Porn Video
भारत में बने ड्राइविंग लाइसेंस से इन देशों में चला सकते हैं गाड़ी, Foreign Trip से पहले जान लीजिए क्या है नियम

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You missed

NEWS VIRAL