• Mon. Mar 4th, 2024

गणना नियम बदला, जानें अब 30,000 X 30/70 से कितनी

ByCreator

Oct 29, 2022    150812 views     Online Now 244

EPS Latest Rule : कर्मचारी भविष्य निधि संगठन ( Employees’ Provident Fund Organisation ) में ईपीएस पर लगी कैपिंग हटाने पर जल्द हो सकता है कर्मचारी पेंशन योजना ( Employee Pension Scheme ) EPS पर फैसला लंबे समय से अटके इस मामले में सुप्रीम कोर्ट की बेंच फैसला ले सकती है. हालांकि यह कहना मुश्किल है कि फैसला किसके पक्ष में लिया जाएगा, लेकिन दोनों पक्षों की ओर से अपनी-अपनी दलीलें पेश कर दी गई हैं !

EPS Latest Rule


EPS Latest Rule

New EPS Latest Rule

कर्मचारी भविष्य निधि संगठन ( Employees’ Provident Fund Organisation ) के पास फंड की कमी के चलते यह मामला पिछले कुछ सालों से लटका हुआ है। उम्मीद है कि 15000 रुपये की कर्मचारी पेंशन योजना ( Employee Pension Scheme ) की मासिक कैपिंग पर ईपीएफओ का बोर्ड सीबीटी का फैसला लेगा। इसे सीबीटी की अगली बैठक में शामिल किया जा सकता है। भारत संघ और कर्मचारी भविष्य निधि संगठन (EPFO) की याचिकाओं पर सुप्रीम कोर्ट अपना फैसला सुनाएगा.

Employee Pension Scheme के संबंध में क्या है नियम

जब कोई कर्मचारी कर्मचारी भविष्य निधि संगठन ( Employees’ Provident Fund Organisation ) में सदस्य बन जाता है, तो वह ईपीएस-कर्मचारी पेंशन योजना ( Employee Pension Scheme ) का सदस्य भी बन जाता है। कर्मचारी के मूल वेतन का 12% योगदान पीएफ में जाता है। यही हिस्सा EPFO कर्मचारी के अलावा नियोक्ता के खाते में भी जाता है।

लेकिन, कर्मचारी भविष्य निधि संगठन ( Employees’ Provident Fund Organisation ) नियोक्ता के योगदान का एक हिस्सा ईपीएस यानी पेंशन फंड में जमा होता है। कर्मचारी पेंशन योजना ( Employee Pension Scheme ) में मूल वेतन का योगदान 8.33% है। हालांकि, EPS पेंशन योग्य वेतन की अधिकतम सीमा 15,000 रुपये है। ऐसे में पेंशन फंड में हर महीने अधिकतम 1250 रुपये ही जमा किए जा सकते हैं.

अधिकतम सीमा पर EPS Pension कैसे प्राप्त करें

कर्मचारी भविष्य निधि संगठन ( Employees’ Provident Fund Organisation ) के नियम के मुताबिक अगर किसी कर्मचारी की बेसिक सैलरी 15,000 रुपये या इससे ज्यादा है तो 1250 रुपये पेंशन फंड में जमा किए जाएंगे. अगर मूल वेतन 10 हजार रुपये है तो अंशदान सिर्फ 833 रुपये होगा। कर्मचारी की सेवानिवृत्ति पर EPFO पेंशन की गणना को भी अधिकतम वेतन 15 हजार रुपये ही माना जाता है। ऐसे में रिटायरमेंट के बाद कर्मचारियों को कर्मचारी पेंशन योजना ( Employee Pension Scheme ) नियम के तहत पेंशन के तौर पर सिर्फ 7,500 रुपये ही मिल सकते हैं।

EPS Latest Rule : अगर 15,000 की सीमा हटा दी जाए तो क्या होगा?

कर्मचारी भविष्य निधि संगठन ( Employees’ Provident Fund Organisation ) के सेवानिवृत्त प्रवर्तन कार्यालय भानु प्रताप शर्मा के मुताबिक अगर EPS पेंशन से 15 हजार रुपये की सीमा खत्म की जाती है तो 7,500 रुपये से ज्यादा पेंशन मिल सकती है. लेकिन, इसके लिए कर्मचारी पेंशन योजना ( Employee Pension Scheme ) में नियोक्ता के योगदान को भी बढ़ाना होगा।

EPFO EPS में पेंशन की गणना कैसे करें : EPS Latest Rule

EPS गणना के लिए फॉर्मूला = मासिक पेंशन = (पेंशन योग्य वेतन x ईपीएस खाते में योगदान की संख्या)/70।
यदि किसी का मासिक वेतन (पिछले 5 वर्षों के वेतन का औसत) 15,000 रुपये है और नौकरी की अवधि 30 वर्ष है, तो उसे केवल 6,828 रुपये प्रति माह की पेंशन मिलेगी।

लिमिट हटा दी तो कितनी मिलेगी EPS पेंशन : EPS Latest Rule

अगर कर्मचारी भविष्य निधि संगठन ( Employees’ Provident Fund Organisation ) द्वारा 15 हजार की सीमा हटा दी जाए और आपकी सैलरी 30 हजार हो जाए तो आपको फॉर्मूला के मुताबिक पेंशन मिलेगी। (30,000 x 30) / 70 = रु 12,857

Employee Pension Scheme में पेंशन निकासी के नियम क्या हैं

अगर आप कर्मचारी पेंशन योजना ( Employee Pension Scheme ) की रकम निकालना चाहते हैं तो अपने खाते में जमा रकम को कभी भी निकाल सकते हैं। चाहे आपकी नौकरी 6 महीने की हो या 10 साल की। लेकिन, आपको EPS पेंशन की राशि निकालने में थोड़ी परेशानी का सामना करना पड़ सकता है। क्योंकि, इसके लिए कर्मचारी भविष्य निधि संगठन ( Employees’ Provident Fund Organisation ) में कई नियम हैं, जिन्हें आपको समझना चाहिए।

Employees’ Provident Fund Organisation जल्द ट्रांसफर करेगा पीएफ का ब्याज

कर्मचारी भविष्य निधि संगठन ( EPFO ) के सब्सक्राइबर्स को दिवाली का तोहफा मिलने वाला है. इस महीने के अंत तक कई रिपोर्ट्स में खुशखबरी मिलने की उम्मीद जताई जा रही है। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, कर्मचारी पेंशन योजना ( Employee Pension Scheme ) PF खाताधारकों को वित्त वर्ष 2021-22 के लिए ब्याज मिल सकता है। इस बार सरकार ईपीएफ खाते पर 8.1 फीसदी की दर से ब्याज देगी । बैलेंस चेक करने के लिए आपको कर्मचारी भविष्य निधि संगठन ( Employees’ Provident Fund Organisation ) ​​की वेबसाइट पर जाना होगा ।

UP DA Hike Update : DA और DR में बंपर बढ़ोतरी, बोनस के साथ खाते में आएंगे 34,220 रु, यहाँ देखे

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You missed

NEWS VIRAL