• Mon. Mar 4th, 2024

Lalluram Impact : रिश्वत की मांग करने वाले जोन क्रमांक एक के ARO का Transfer, जानिए क्या है पूरा मामला…

ByCreator

Sep 14, 2022    150811 views     Online Now 221

प्रतीक चौहान, रायपुर. रिश्वत लेकर जमीन का टैक्स कम करने वाले जोन क्रमांक एक के एआरओ सत्यप्रकाश लहरे का तबादला किया गया है. लल्लूराम डाॅट काम की टीम ने प्रमुखता से एआरओ लहरे द्वारा रिश्वत की मांग करने का मामला उठाया था, जिसे गंभीरता से लेते हुए नगर निगम आयुक्त ने यह तबादला आदेश जारी किया. लहरे के स्थान पर राजू दुबे को पदस्थ किया गया है.

जानिए ये है पूरा मामला
दरअसल, कुछ यूं कि लल्लूराम को 9329111133 नंबर पर सूचना मिली कि जोन क्रमांक 1 के अधिकारी ईमानदारी से टैक्स लेने को तैयार नहीं है. इसके बाद लल्लूराम डॉट कॉम की टीम नगर निगम जोन क्रमांक 1 के एआरओ सत्यप्रकाश लहरे के पास पहुंची. ये बात कुछ दिन पुरानी है. टीम ने आवेदक की पुरानी रसीद का हवाला देते हुए बताया कि संबंधित व्यक्ति अपनी खाली जमीन का टैक्स पटाना चाहता है, लेकिन रसीद में मौजूद आईडी नंबर गलत होने की वजह से नई रसीद सिस्टम से जनरेट नहीं हो रही है और टैक्स पटाने में आवेदक को परेशानी हो रही है.

स्टॉफ द्वारा स्पॉट का निरीक्षण दो बार हो चुका है. बावजूद इसके आवेदक टैक्स जमा नहीं कर पा रहा है. नगर निगम जोन क्रमांक 1 के एआरओ ने 29 अगस्त सोमवार 11 बजे का समय दिया, लेकिन आवेदक समय पर नहीं पहुंच पाया. इसके बाद तीन दिनों की छुट्टी पड़ गई और आवेदन आज पुनः गया. एआरओ ने अपने स्टॉफ लोकनाथ और संजू को निरीक्षण करने आवेदक के साथ भेजा. निरीक्षण के बाद आवेदक जब ऑफिस पहुंचा तो लोकनाथ ने आवेदक से ये कहा कि एआरओ सर का कुछ करवा दीजिएगा वो आपका टैक्स कम करवा देंगे. आवेदक ने कहा क्या करवाना है, तो उसे कहा गया 5 करवाना है. यानी 5 हजार रुपए. इसके बाद आवेदक ने पुनः लल्लूराम को इसकी सूचना दी कि रिश्वत की आड़ में उसका टैक्स कम किया जा रहा है, जबकि वो नियमों के हिसाब से पूरा टैक्स पटाना चाहता था.

टीम नगर निगम जोन क्रमांक 1 पहुंची. जिसके बाद टैक्स जमा करने की प्रक्रिया शुरू हुई. निरीक्षण रिपोर्ट में निरीक्षण करने गए नगर निगम स्टॉफ ने भरा और उसमें निरीक्षण फार्म में नियमों के विपरित जाकर राशि को कम कर दिया गया, जबकि आवेदक पूर्व में पटाए टैक्स रसीद से टैक्स जमा करना चाह रहा था.

पूरी रसीद कटने के बाद टीम एआरओ के पास पहुंची. 5 हजार रुपए रिश्वत के चढ़ावे की आड़ में नियमों के विपरित जाकर निरीक्षण रिपोर्ट तैयार करने वाले नगर निगम जोन क्रमांक 1 के एआरओ सत्यप्रकाश लहरे को जब पैसे देने टीम पहुंची तो उन्होंने सीधे पैसे नहीं लिए. कहा- थोड़ी देर बैठो. इसके बाद वे धीरे से बोले- आप लोग न्यूज वाले हो, ये सब शोभा नहीं देता, आप पैसे संजू को दे दो.

इसे भी पढ़ें – Chhattisgarh News: इस नगर निगम का हाल, 5 हजार का चढ़ावा डिमांड कर कुछ भी कर देंगे ARO, लल्लूराम ने किया STING

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You missed

NEWS VIRAL