• Wed. Feb 21st, 2024

परसा: अदाणी फाउंडेशन द्वारा सरगुजा जिले के उदयपुर ब्लॉक के ग्राम गुमगा और तारा में शनिवार को क्रमशः नेत्र और दन्त चिकित्सा के विशेष शिविर का आयोजन किया गया। ग्राम पंचायत गुमगा, तारा और ग्राम उद्यमी NGO के सहयोग से पंचायत कार्यालय परिसर में आयोजित दोनों निःशुल्क चिकित्सा शिविरों में 150 से ज्यादा मरीजों की जांच की गई.

आवश्यकतानुसार चश्मों तथा दवाइयों का वितरण किया गया। राजस्थान राज्य विद्युत उत्पादन निगम लिमिटेड (आरआरवीयूएनएल) की परसा ईस्ट केते बासेन (पीईकेबी) परियोजना के निगमित सामाजिक सरोकारों के तहत आसपास के सभी 14 ग्रामों में गुणवत्ता युक्त स्वास्थ्य सुविधा उपलब्ध कराने के उद्देश्य से ऐसे कई विशेष शिविर आयोजित किये जा रहे है।

स्वास्थ्य और शिक्षा क्षेत्र के गैर सरकारी संगठन ग्राम उद्यमी के नेत्र रोग विशेषज्ञ डॉ. आनंद कुमार ने नेत्र सम्बंधित तकलीफों के लिए मरीजों को दवाइयाँ और चिकित्सकीय परामर्श दिए। शिविर में आये लोगों की दातों के शिविर में आये लोगों की दांतों की समस्या की जाँच कंसल्टिंग डेंटिस्ट डॉ. रोहित दुबे द्वारा की गयी।

अपनी आँखों का इलाज कराने आये ग्राम गुमगा के बीनागर प्रसाद ने कहा कि,” मेरे आँखों में बहुत दिनों से परेशानी थी जिसके जांच के लिए मैं आज इस शिविर में आया हूँ, यहां डाक्टर ने मेरी आँखों की जाँच कर निःशुल्क चश्मा और दवाईंयां प्रदान की। अब मैं अच्छे से देख पा रहा हूँ।”

शिविरों में दोनों ग्राम पंचायत के सरपंचों एवं उपसरपंचों द्वारा विशेष सहयोग प्रदान किया गया। ग्राम पंचायत गुमगा के सरपंच द्वारिका यादव और तारा के सदन कुमार ने आरआरवीयूएनएल और अदाणी फाउंडेशन के द्वारा स्वास्थ्य शिविर के आयोजन की सराहना कर धन्यवाद दिया। इस स्वास्थ्य शिविर में अदाणी इंटरप्राइजेज के सरगुजा क्लस्टर प्रमुख मनोज कुमार शाही के साथ सत्येंद्र बघेल, राम द्विवेदी, राजीव रंजन द्विवेदी और मुनीश सूद भी उपस्थित हुए।

अदाणी फाउंडेशन से अनिल कुमार जायसवाल, सौरभ सिंह, बलराम चौधरी, ग्राम उद्यमी से सुष्मिता कुमारी, वीना देवी देवांगन, महिला उद्यमी बहुउद्देशीय सहकारी समिति की मौसमी बिस्वास, साधना सिंह अमिता सिंह और सुनीता यादव द्वारा दोनों स्वास्थ्य शिविरों को सफल बनाने में सहयोग प्रदान किया।

समूह की सीएसआर शाखा, अदाणी फाउंडेशन, राजस्थान राज्य विद्युत उत्पादन निगम लिमिटेड (आरआरवीयूएनएल) के साथ शिक्षा, स्वास्थ्य, आजीविका संवर्धन और बुनियादी ढांचे के विकास के कई कार्यक्रम संचालित करती है। वहीं गुणवत्तायुक्त स्वास्थ्य सेवाओं में एम्बुलेंस और मोबाइल क्लिनिकस द्वारा ग्रामीणों को घर पहुँच ईलाज प्राप्त हो रहा है।

वहीं गुणवत्तायुक्त शिक्षा के लिए भी क्षेत्र में अदाणी विद्या मंदिर में पढ़ने वाले आदिवासी छात्रों को डिजिटल लर्निंग के लिए बाल दिवस के मौके पर व्यक्तिगत टैबलेट प्रदान करके आधुनिक शिक्षा का अनुभव देने की दिशा में एक महत्वपूर्ण कदम उठाया है।

कक्षा 4 से 10 तक के सभी 410 छात्रों के पास अपना टैबलेट होगा, जिससे वे इंटरनेट की आवश्यकता के बिना डिजिटल और अनुकूलित टैबलेट पर स्कूल के बाद भी अपनी पढ़ाई जारी रख पाएंगे और अपने व्यक्तित्व का समग्र विकास के साथ वे देश की प्रगति में भी सहायक हो सकेंगे।

Read more- Health Ministry Deploys an Expert Team to Kerala to Take Stock of Zika Virus

Related Post

आईजी का इंस्पेक्शन: दरबार लगाकर आईजी ने पुलिसकर्मियों की समस्याएं सुनीं और समाधान का दिया आश्वासन, कानून व्यवस्था सुधारने के सख्त निर्देश…
बहू के Bedroom और Bathroom में ससुर ने लगाए Hidden Camera, फिर बनाने लगा Porn Video
भारत में बने ड्राइविंग लाइसेंस से इन देशों में चला सकते हैं गाड़ी, Foreign Trip से पहले जान लीजिए क्या है नियम

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You missed

NEWS VIRAL