• Sat. Jul 13th, 2024

रायपुर के डाॅ. अखिलेश साहू ने बनाया वर्ल्ड रिकॉर्ड, ए ट्रिपल डॉक्टर की मिली उपाधि

ByCreator

Sep 12, 2022    150822 views     Online Now 445

रायपुर. विश्व के पहले फिजियो के रूप में रायपुर के डाॅ. अखिलेश साहू ने ए ट्रिपल डॉक्टर की उपाधि प्राप्त कर वर्ल्ड रिकॉर्ड बनाया. 6 मास्टर्स और डबल पीएचडी की डिग्री 4 अलग चिकित्सा पद्धतियों में प्राप्त कर डाॅ. साहू ने वल्र्ड बुक ऑफ रिकॉर्ड्स, लंदन के गोल्ड एडिशन में अपना नाम दर्ज कराया है.

महज 37 वर्ष के डाॅ. अखिलेश साहू का उद्देश्य विभिन्न बीमारियों को जड़ से खत्म कर शरीर और मन के सेल्फ हीलिंग पावर को एक्टिवेट करते हुए हॉलिस्टिक मेडिसिन के तरीके से व्यक्ति को मन, शरीर और आत्मा के स्तर पर सशक्त बनाते हुए पूर्ण रूप से निजात दिलाने का है. इसके लिए उन्होंने 20 वर्षों की कड़ी मेहनत के बाद यह विश्व कीर्तिमान रचा है.

इनका वल्र्ड रिकॉर्ड बुक ऑफ रिकॉर्ड्स, लंदन के गोल्ड एडिशन में इस प्रकार दर्ज है. फस्र्ट फिजियो इन दिस वल्र्ड, रिसीव्डध्अर्नड 06 मास्टर्स एंड डबल 02 डॉक्टरेट पीएचडी इन 04 डिफरेंट हीलिंग सिस्टम्स एस मैनुअल मेडिसिन, नेचर मेडिसिन, माइंड, क्वांटम मेडिसिन एंड एनर्जी मेडिसिन (ए हॉलिस्टिक मेडिसिन,वेलनेस एप्रोच) एट माइंड एंड बॉडी लेवल एट द एज ऑफ 37 ईयर्स एंड एस्टेब्लिश्ड ए टाइटल ऑफ ए ट्रिपल डॉक्टर. डा. अखिलेश साहू, शंकर नगर रायपुर में गोल्डन वेलनेस एंड रिसर्च सेंटर के फाउंडर डायरेक्टर हैं और न्यूरो, आर्थो फिजियोथेरेपी, लाइफ स्टाइल डिजीज, माइंड एवं हॉलिस्टिक मेडिसिन के कंसल्टेंट हैं.

डा. अखिलेश साहू एक हॉलिस्टिक कंसल्टेंट होने के साथ ही एक क्वांटम एवं नेचर साइंटिस्ट भी हैं, जिसमें इनका रिसर्च लगातार चलता रहता है. इनके रिसर्च पेपर्स कई इंटरनेशनल जर्नल्स में प्रकाशित होते रहते हैं. इनका उद्देश्य होता है कि किस तरह से बॉडी और माइंड को सेल्फ हीलिंग पावर के माध्यम से ठीक किया जाए, जिनके कोई साइड इफेक्ट्स न हो बल्कि ढेर सारे साइड बेनिफिट्स हो. इसी क्रम में विभिन्न बीमारियों को रिवर्स करने की पद्धतियों में सफलता भी पा चुके हैं.

See also  India China Clash: अरुणाचल के तवांग में चीन के साथ झड़प, भारतीय सैनिकों ने ड्रैगन के 300 सेना को खदेड़ा, भारत के 6 जवान घायल... - Achchhi Khabar, हिंदी न्यूज़, Hindi Samachar

ये भी डाॅ. अखिलेश की उपलब्धियां
कोरोनाकाल में डा. अखिलेश साहू को कोरोना के मरीजों को नेचुरल तरीके से रिकवर करने के लिए कोरोना वॉरियर के रूप में (रिसर्च इंस्टीट्यूट ऑफ कंप्लीमेंट्री हेल्थ साइंसेज, वियतनाम) द्वारा भी सम्मानित किया जा चुका है.
इंडियन एसोसिएशन ऑफ फिजियोथैरेपिस्ट, छत्तीसगढ राज्य के महासचिव के रूप में दायित्व भी डा. अखिलेश साहू निभा रहे हैं.
इनके द्वारा संचालित गोल्डन वेलनेस एंड रिसर्च सेंटर, रायपुर को बेस्ट इन सेंट्रल इंडिया के अवार्ड से सम्मानित किया जा चुका है.
इनके द्वारा वल्र्ड रिकॉर्ड बनाने के इस उपलब्धि पर इन्हें डा. किरण बेदी, पूर्व उपराज्यपाल, पुदुचेरी, महाराज कुमार साहिब लक्ष्यराज सिंह मेवाड़ ऑफ उदयपुर, विल्हेल्म जेजलर जी, स्विजरलैंड (हेड ऑफ यूरोप), पूनम जेजलर (अध्यक्ष, स्विजरलैंड), शंकर लालवानी, सांसद इंदौर, मनु श्रीवास्तव, आईएएस, प्रमुख सचिव, मध्यप्रदेश शासन, वरुण कपूर, आईपीएस, डी.जी.पी. द्वारा इंदौर में सम्मानित किया गया.
मुख्यमंत्री भूपेश बघेल, गृहमंत्री ताम्रध्वज साहू, विधानसभा अध्यक्ष चरणदास महंत, स्वास्थ्य मंत्री टीएस सिंहदेव, पूर्व मंत्री एवं विधायक बृजमोहन अग्रवाल, पूर्व विधानसभा अध्यक्ष प्रेमप्रकाश पांडेय एवं अन्यजन प्रतिनिधियो द्वारा इनके उपलब्धि को काफी सराहा गया. साथ ही छत्तीसगढ गौरव के रूप में सम्मानित किया गया.
इनका वल्र्ड रिकॉर्ड एक्डेमिक्स में होने पर कलिंगा यूनिवर्सिटी द्वारा इन्हें यूथ आइकॉन के रूप में सम्मानित किया गया.
आईएपी (छ.ग.) द्वारा इन्हें फिजियो एक्सीलेंस अवार्ड से भी सम्मानित किया जा चुका है.

0 0 votes
Article Rating
Subscribe
Notify of
guest
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments
0
Would love your thoughts, please comment.x
()
x
NEWS VIRAL