• Tue. Apr 23rd, 2024

6.5 करोड़ मेंबर्स का PF ब्याज

ByCreator

Sep 13, 2023    150810 views     Online Now 318

EPFO PF Account Interest Rate : कर्मचारी भविष्य निधि संगठन ( Employees Provident Fund Organization ) ने वित्त वर्ष 2022-23 के लिए ईपीएफ खाते पर 8.15 फीसदी ब्याज दर की घोषणा की है, पहले यह 8.10 फीसदी थी. केंद्रीय वित्त मंत्रालय ने भविष्य निधि योगदान के लिए ब्याज दर में वृद्धि की अधिसूचना जारी कर दी है। EPFO की ओर से जारी अधिसूचना में कहा गया है कि भारत सरकार के श्रम और रोजगार मंत्रालय ने वर्ष 2022 के लिए ईपीएफ योजना के प्रत्येक सदस्य के खाते में भविष्य निधि योगदान के लिए ब्याज दर में वृद्धि को मंजूरी दे दी है !

EPFO PF Account Interest Rate


<yoastmark class=

कर्मचारी भविष्य निधि संगठन ( Employees Provident Fund Organization ) खाते पर ब्याज दरों में बढ़ोतरी की घोषणा से संबंधित सर्कुलर सोमवार 24 जुलाई को जारी किया गया है। गौरतलब है कि EPFO बोर्ड ने वित्त वर्ष 2022 के लिए ईपीएफ खाते पर ब्याज दर 8.15 फीसदी तय की थी- 23 और इसे मंजूरी के लिए वित्त मंत्रालय को भेजा। जानकारी के मुताबिक अगस्त 2023 से ब्याज का पैसा खाते में पहुंचना शुरू हो जाएगा !

ब्याज दर 8.10 फीसदी से बढ़ाकर 8.15 फीसदी करने का प्रस्ताव

कर्मचारी भविष्य निधि संगठन ( Employees Provident Fund Organization ) की ओर से जारी सर्कुलर के मुताबिक, बोर्ड ने इस साल मार्च में ब्याज दर 8.10 फीसदी से बढ़ाकर 8.15 फीसदी करने का प्रस्ताव दिया था. रिपोर्ट्स के मुताबिक, सीबीटी की सिफारिश के बाद वित्त मंत्रालय द्वारा ब्याज दर अधिसूचित की जाती है, तभी इसे EPFO सदस्यों के खातों में जमा किया जा सकता है। आमतौर पर, ब्याज दर वित्त मंत्रालय द्वारा वित्तीय वर्ष की पहली तिमाही में अधिसूचित की जाती है और ग्राहक FY23 अधिसूचना का इंतजार कर रहे थे।

 EPFO ने ब्याज दर 8 फीसदी तय की थी

गौरतलब है कि वित्त वर्ष 2021-22 के लिए EPFO ने ईपीएफ अकाउंट के लिए ब्याज दर 8.10 फीसदी तय की थी. यह लगभग 40 वर्षों में सबसे कम ब्याज दर है। 1977-78 में ईपीएफओ ने ब्याज दर 8 फीसदी तय की थी. लेकिन उसके बाद से यह लगातार 8.25 प्रतिशत या उससे अधिक पर बनी हुई है. वित्त वर्ष 2018-19 में 8.65 फीसदी, 2017-18 में 8.55 फीसदी, 2016-17 में 8.65 फीसदी और वित्त वर्ष 2015-16 में 8.8 फीसदी की दर से ब्याज मिलता था.

Employees Provident Fund Organization

ईपीएफ खाते के लिए कर्मचारी के वेतन से 12 प्रतिशत की कटौती की जाती है। नियोक्ता द्वारा EPFO कर्मचारी के वेतन में की जाने वाली कटौती में से 8.33 प्रतिशत ईपीएस में जाता है, जबकि 3.67 प्रतिशत ईपीएफ में जाता है। आप घर बैठे आसान तरीकों से अपने पीएफ खाते का मौजूदा बैलेंस चेक कर सकते हैं। इसके लिए कई विकल्प दिए गए हैं. आप उमंग ऐप, वेबसाइट या अपने मोबाइल फोन से एसएमएस भेजकर पता कर सकते हैं। देशभर में करीब 6.5 करोड़ कर्मचारी भविष्य निधि संगठन ( Employees Provident Fund Organization ) सब्सक्राइबर्स हैं.

EPFO पोर्टल से बैलेंस चेक करें

EPFO की आधिकारिक वेबसाइट www.epfindia.gov.in पर जाएं। इसके बाद ई-पासबुक विकल्प पर क्लिक करें। नए पेज पर यूएएन, पासवर्ड और कैप्चा कोड दर्ज करें और लॉगिन पर क्लिक करें। लॉग इन करने के बाद पासबुक देखने के लिए मेंबर आईडी विकल्प चुनें। अब आपको पासबुक पीडीएफ फॉर्मेट में मिल जाएगी, जिसे आप डाउनलोड कर सकते हैं। आप सीधे https://passbook.epfindia.gov.in/ पर जाकर भी पासबुक चेक कर सकते हैं। कर्मचारी भविष्य निधि संगठन ( Employees Provident Fund Organization ) कर्मचारी आपके सामने पूरी जानकारी खुलकर आ जाएगी।

Jeevan Shanti Plan LIC 2023 : LIC की इस छप्पर फाड़ पॉलिसी में होगी इनकम ही इनकम, देखे फटाफट

DA Arrears Big Updates : 18 महीने के बकाया DA पर किया फाइनल फैसला इन लोगों को मिलेगा लाभ

Related Post

MP MLA के खिलाफ 2000 से ज्यादा केस में स्पेशल कोर्ट ने सुनाया फैसला, SC को दी जानकारी | Special court gives verdict in more than 2000 cases against MP MLA gives information to SC
RR vs MI, IPL 2024 : राजस्थान के रजवाड़ों ने मुंबई को चटाई धुल, यशस्वी जयसवाल की शतकीय पारी के साथ 9 विकेट से जीती RR
सिविल अस्पताल की लापरवाही से युवक की असमय मौत, नाराज परिजनों ने प्रंबधन पर लगाए आरोप, नेशनल हाईवे पर किया चक्काजाम

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You missed

NEWS VIRAL