• Tue. Apr 16th, 2024

लखनऊ. लखनऊ. यूपी विधानसभा का बजट सत्र जारी है. गुरुवार के विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष अखिलेश यादव ने सदन को संबोधित करते हुए भाजपा सरकार जमकर निशाना साधा. इस दौरान अखिलेश यादव ने कहा कि कहा कि हम सब जातीय जनगणना चाहते हैं, इसके बिना हमारी आबादी, हिस्सेदारी नही पता चलेगी, तब कैसे आप सबका विश्वास जीतेंगे. उन्होंने कहा कि जातीय जनगणना के बिना विकास अधूरा रहेगा, सबका साथ सबका विकास बिना जाति जनगणना के कैसे संभव है.

अखिलेश यादव ने कहा कि हमारे सहयोगी दल अपना दल, रालोद भी जाति जनगणना चाहते हैं. इसके अलावा भी कई दल चाहते हैं कि जाति जनगणना होनी चाहिए. जातीय जनगणना अगर बिहार में हो सकती है, तो उत्तरप्रदेश में क्यों नही हो सकती? दक्षिण भारत के बड़े नेता भी चाहते हैं. उन्होंने कहा कि हमारी मांग है, जातीय जनगणना होनी चाहिए.

नेता प्रतिपक्ष अखिलेश यादव ने कहा कि आप अगर जातीय जनगणना के खिलाफ हैं, तो आउटसोर्सिंग के खिलाफ क्यो नहीं है. बजट में आप डेटा सेंटर बना रहे हैं, तो फिर क्यों जातीय जनगणना नही होनी चाहिए. उन्होंने सदन में ऐलान करते हुए कहा कि समाजवादी पार्टी की सरकार बनने पर तीन माह में कराएंगे जातीय जनगणना.

यूपी विकास करेगा तो देश विकास करेगा. यूपी आगे बढ़ेगा तो देश भी आगे बढ़ेगा. बहुत सारी बातें सरकार भूल गई है. सरकार बताए सिंचाई फंड कहां है. बोर्ड परीक्षा में जमकर नकल हो रही है. उन्होंने कहा कि गन्ना किसानों का भुगतान नहीं हो रहा है. आवास पशुओं का समस्या नहीं खत्म हुई. आवारा पशुओं की समस्या नहीं खत्म हुई.

सदन में संबोधित करते हुए अखिलेश यादव ने कहा कि यूपी विकास करेगा तो देश विकास करेगा. यूपी आगे बढ़ेगा तो देश भी आगे बढ़ेगा. बहुत सारी बातें सरकार भूल गई है. न्याय मांगने गए ब्राह्मण को नंगा किया गया. इन्वेस्टमेंट वाली वेबसाइट ही नहीं खुल रही है. उन्होंने कहा कि भारत ने जीरो बनाया, बीजेपी आगे लगाती जा रही है. इज ऑफ डूइंग क्राइम यूपी में बढ़ रहा है. प्रशासन न्याय देता तो मां बेटी को जली नहीं होती. उत्तर प्रदेश में क्राइम बढ़ रहा है. ये एनसीआरबी का आंकड़े बता रहे हैं. महिलाओं पर अपराध लगातार बढ़ रहे हैं.

अखिलेश यादव ने कहा कि बुलडोजर चलाने का फैसला किसका था. कन्नौज में 10 हजार देकर युवक से मांस रखवाया गया. रायबरेली में दलित युवक से जूते चटवाए गए. बलिया में व्यापारी से सूदखोरी कौन कर रहा है. उन्होंने कहा कि कानपुर के बलवंत के परिवार की मदद दीजिए. यूपी के पास परमानेंट डीजीपी ही नहीं है. मैं PHQ गया तो 12 बजे तक पुलिस सो रही थी. परमानेंट DGP नहीं होगा तो लॉ एंड ऑर्डर कैसे सुधरेगा?’

इसे भी पढ़ें- बाइक की नंबर प्लेट पर ‘योगी सेवक’ लिखना पड़ा महंगा, पुलिस ने काटा इतने हजार का चालान

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You missed

NEWS VIRAL